मेरी रचनाये

Members

गुरुवार, 9 जनवरी 2014

कोसीर को विकासखण्ड की मांग को लेकर ग्रामीण हुये लामबंद ...



                         कोसीर को विकासखण्ड की मांग को लेकर ग्रामीण हुये लामबंद
0 आज 9 जनवरी को जिला कलेक्टर से मिलकर रखेंगे अपनी बात
0 11जनवरी को कोसीर में ग्रामीण करेंगे धरना प्रदर्शन
0 सारंगढ एस डी एम, तहसीलदार से किये विकासखण्ड की मांग
० लक्ष्मी नारायण लहरे 
कोसीर - कोसीर अंचल के ग्रामीणों को विकासखण्ड की महत्व का एहसास हो गया है और कोसीर को विकासखण्ड की मांग को लेकर ग्रामीण सक्रीय के साथ साथ लामबंद हो गये हैं। कोसीर को विकासखण्ड की मांग को लेकर सुबह शाम गांव में बैठकें हो रही है।विकासखण्ड की मांग को लेकर एक सूत्रीय कार्यक्रम बनाकर आगे बढने की ठान लिये हैं।विगत दिवस 7जनवरी को कोसीर अंचल के ग्रामीण सारंगढ पहुॅचे और सारंगढ एस डी एम ,तहसीलदार से मिले मिलकर आवेदन करते हुये कोसीर को विकासखण्ड की मांग की बात रखे और बोले कोसीर विकासखण्ड बनने के योग्य है इस विषय पर विचार करने योग्य है। कोसीर विकासखण्ड न बनने से लम्बे समय से विकास से कोसों दूर रहा है बनने पर क्षेत्र का विकास होगा।यही नहीं 8 जनवरी को सारंगढ एस डी एम को आवेदन देकर अवगत कराया गया है जिसमें 11जनवरी को धरना प्रदर्शन की बात कही गयी है इस तरह विकासखण्ड की मांग को लेकर अंचलवासी पूरी तरह कमर कस लिये हैं। 8जनवरी को कोसीर के ऐतिहासिक मां कौशलेश्वरी देेवी मंदिर प्रांगण में एक बैठक आयोजित किया गया जिसमें हर वर्ग के लोग शामिल हुये और बैठक में सर्व सम्मति से निर्णय लिया गया कि कोसीर को विकासखण्ड बनाने के लिये जिला कलेक्टर से भी मिलना चाहिये और आज 9 जनवरी को सैकडों ग्रामीण जिला कलेक्टर से मिलने रायगढ जायेंगे मिलकर कोसीर को विकासखण्ड बनाने की मांग रखेंगे।बैठक में गांव के गणमान्य जन और क्षेत्रीय जनप्रतिनिधि के साथ साथ कोसीर गांव के आम लोग भी शामिल हुये।जिसमें लखनलाल चन्द्रा ,बिल्ठीराम आदित्य कार्तिक राम पटेल क्षेत्रीय जनप्रतिनिधि जनपद सदस्य डां एम आर खरे ,छेदू राम साहू ,किसान मोर्चा मण्डल अध्यक्ष सहदेव प्रसाद सुमन क्षेत्रीय नेता भगतराम बंजारे , मण्डल कोषाध्यक्ष कमलकृष्ण श्रीवास मंडी सदस्य कौशल प्रसाद चन्द्रा पूर्व सरपंच किरीतराम खुॅटे, खीकराम जायसवाल ,तथा जेठूराम,रामाधार कुर्रे मिट्ठूलाल अग्र्रवाल ,विष्णू चन्द्रा ,लाभोराम लहरे ,सेवक पटाइल ,दाउराम चन्द्रा,बसंत सुमन,प्रेमचंद लहरे ,पिताम्बर सुमन उपस्थित रहे।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें